शनिवार, जून 20, 2015

वादा खिलाफी की तुझे बीमारी बहुत है

यूँ पहले ही तुझ पर ना एतबारी बहुत है
वादा खिलाफी की तुझे बीमारी बहुत है
उस पर ये तुर्रा हुए सत्ता नसी ज्यों ही
अपनों का गला रेतने तैयारी बहुत है......

हिटलर से सीखा है तूने राज चलाना,
खुद के राजदारों को मिटटी में मिलाना,
खुद को शेर बताते, सियार तुम ये दोस्त,
मर्द की खाल में तुम निकले जनाना………